R Bharat

हरियाणा के मंत्रियों और प्रदेशाध्यक्ष ने खट्टर के खिलाफ कथित साजिश रची थी: यशपाल मलिक, जाट नेता

Written By Press Trust Of India | Mumbai | Published:

अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मलिक ने मंगलवार को आरोप लगाया कि जाट आंदोलन के दौरान हरियाणा के कुछ मंत्रियों और प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के खिलाफ कथित साजिश रची थी.

मलिक ने जींद में पत्रकारों से बातचीत में दावा किया कि भाजपा संगठन में हरियाणा के मुख्यमंत्री पद को लेकर अंदरूनी लड़ाई है, जिस वजह से जाट आंदोलन को ‘खूनी आंदोलन’ बनाने की साजिश रची गई.

उन्होंने दावा किया कि इस साजिश में पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला, सरकार के मंत्री कैप्टन अभिमन्यु और ओम प्रकाश धनखड़ शामिल थे. भाजपा के नेताओं ने ही हरियाणा बांटने की साजिश रची.

उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा के कुछ नेता अब भी नहीं चाहते थे कि सरकार और उनके बीच समझौता हो.

गौरतलब है कि हरियाणा सरकार ने रविवार की रात जाट आरक्षण संघर्ष समिति की मांगों को स्वीकार कर लिया. इसके बाद जाटों ने 15 फरवरी को जींद में आयोजित होने वाली अपनी रैली को स्थगित करने का ऐलान किया. भाजपा अध्यक्ष अमित शाह इसी दिन शहर में एक बाइक रैली में हिस्सा लेंगे.

मलिक ने कहा कि उनकी सरकार से अच्छे माहौल में बातचीत हुई है और वह आश्वस्त है कि उनकी सभी मांगो पर सरकार ने गम्भीरता से निर्णय लेने शुरू कर दिए है. उन्होंने कहा कि सरकार ने छह फरवरी को ही कुछ मुकदमें खारिज करने की प्रक्रिया आरम्भ कर दी थी.

 

Below Article Thumbnails
DO NOT MISS