Credit- BCCI/ Twitter
Credit- BCCI/ Twitter

R Bharat

#INDvAFG: 'गब्बर' ने तोड़ा वीरू का रिकॉर्ड, पहले सेशन में सेंचुरी बनाने वाले पहले भारतीय बने....

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

शिखर धवन ने अफगानिस्तान को लंबे प्रारूप के शुरू में ही गुरूवार को बेंगलुरू में कड़ा सबक सिखाकर नाबाद शतक जड़ा जिससे भारत ने इस एकमात्र टेस्ट मैच के पहले दिन के दूसरे सत्र में 1 विकेट खो कर 216 रन बना लिए हैं.

धवन ने अफगानिस्तान के अनुभवहीन गेंदबाजों के खिलाफ आक्रामक तेवर अपनाए और केवल 87 गेंदों पर शतक पूरा किया. लेकिन 107 के निजी स्कोर पर स्कोर पर वो आउट हो गए. जबकि मुरली विजय भी अपने शतक से महज 24 रन दूर हैं वह अभी 76 रन पर खेल रहे हैं और उनका साथ लोकेश राहुल दे रहे हैं उन्होंने भी 34 बॉल में 22 रन बना लिए हैं.

धवन ने इस ऐतिहासिक टेस्ट मैच के शुरू में ही नया इतिहास भी रचाा. वह किसी टेस्ट मैच के शुरुआती दिन लंच से पहले शतक जड़ने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं. विश्व स्तर पर उनसे पहले सर डॉन ब्रैडमैन , विक्टर ट्रंपर , चार्ली मैकार्टनी , माजिद खान और डेविड वार्नर ही यह कारनामा कर पाए थे. 

अफगानिस्तान के कोच फिल सिमन्स ने मैच से पहले कहा था कि उनके खिलाड़ियों को मैदान पर उतरने के बाद ही असलियत पता चलेगी और यहां ऐसा देखने को भी मिला. उसके युवा और प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को भारत के दोनों सलामी बल्लेबाजों ने कड़ा सबक सिखाया. 

टी 20 के स्टार राशिद खान को धवन ने शुरू से निशाने रखा. उन्होंने इस लेग स्पिनर पर तीन चौके लगाकर अपना पचासा पूरा किया. बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने राशिद पर ही कवर ड्राइव से चौका जड़कर अपना सातवां टेस्ट शतक पूरा किया. दूसरे छोर पर विजय ने अपनी रक्षात्मक तकनीक से भी अपना पहला टेस्ट खेल रहे अफगानिस्तान को हताश किया. 

धवन ने आईपीएल में खेलने वाले अफगानिस्तान के तीनों खिलाड़ियों राशिद , मोहम्मद नबी और मुजीब उर रहमान पर छक्के जड़े. धवन ने कुल मिलाकर 19 चौके और तीन छक्के लगाए जबकि विजय ने छह चौके और एक छक्का लगाया है. 
 

पहले सत्र में 25 चौके और चार छक्के लगे. अफगानिस्तान के गेंदबाज विशेषकर स्पिनर जूझते हुए नजर आए जिन्होंने लाल गेंद को सीधा फेंका. जब भी राशिद या मुजीब ने गेंद को फ्लाइट देने की कोशिश की तो धवन ने आगे बढ़कर उस पर शाट जमा दिया. 
 

गेंदबाजी का आगाज करने वाले यामिन अहमदजई ने जरूर शुरू में कुछ अच्छी आउटस्विंगर की. उनके साथ नयी गेंद संभालने वाले वफादार को भी विजय ने शुरू में संभलकर खेला. 
 

(इनपुट- भाषा)

 

Below Article Thumbnails
DO NOT MISS