R Bharat

VIDEO: दिग्विजय सिंह बोले, 'मैंने 'हिंदू आतंकवाद' कभी नहीं कहा, कोई सबूत है तो लाकर दिखा दो'

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

अपने विवादित बयानों के चलते अक्सर सुर्खियों में रहने वाले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर बीजेपी और आरएसएस पर हमला बोलते हुए कहा कि हिंदू कभी भी आतंकवादी नहीं हो सकते.

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय ने एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा और संघ को दी और बोले कि मैंने कभी हिन्दू आतंकवाद नहीं कहा, हिंदू धर्म तो इतना अच्छा धर्म तो इतना अच्छा धर्म है, साथ इस्लाम और ईसाई धर्म भी सबको साथ लेकर चलाता है. उन्होंने आगे बीजेपी और आरएसएस की ओर इशारा करते हुए कहा कि ये लोग धार्मिक नहीं हैं, बल्कि ये लोग धर्म के नाम पर लोगों को भड़काते हैं. इन्होंने कहा था कि मंदिर बनावा देंगे, जिसके लिए कहा कि हमारी सरकार ला दो, सरकार आ गई. लेकिन मंदिर नहीं बना.

उन्होंने आगे आरएसएस पर निशाना साधते हुए कहा कि मैंने 'संघी आतंकवाद' कहा है , संघ के आतंकवादी पकड़े गए है , मैं खुद भी हिन्दू हूं और सनातन धर्म का सम्मान करता हूं. हिन्दू आतंकवादी नही हो सकता , अगर ऐसे बयान का कोई वीडियो हो तो दिखा दो.

इसे भी पढ़ें- दिग्विजय सिंह का मोदी सरकार पर तीखा हमला, सेना की 'साख' कम करने की कोशिश रही है केंद्र सरकार
 

इससे पहले बीते दिनों दिग्विजय का एक ओर बयान सामने आया था जिसमें आरएसएस की विचारधारा को 'नफरत फैलाने' वाली विचारधारा बताते हुए कहा कि जितने भी हिंदू धर्म को मनाने वाले आतंकवादी पकड़ गए हैं वो सब संघ के कार्यकर्ता रहे हैं. नाथूराम गोडसे, जिसने महात्मा गांधी को मारा था वो भी संध का हिस्सा था. यह विचारधारा सिर्फ नफरत फैलाती है, वो नफरत हिंसा में बदल जाती है जिसके बाद वो आतंकवाद का रूप ले लेती है.

इसे भी पढ़ें- जितने भी हिंदू धर्म वाले आतंकवादी पकड़े गए हैं वो सब RSS के कार्यकर्ता रहे हैं- दिग्विजय सिंह

गौरतलब है कि इससे पहले भी कई मौकों पर ऐसे ही मुद्दों को लेकर आरएसएस और बीजेपी पर निशाना साधते रहे हैं. बता दें, कुछ दिनों पहले ही दिग्विजय सिंह ने अपनी एकता यात्रा के दौरान कहा था कि मैंने कभी हिंदू आतंकवाद नहीं कहा था बल्कि संध आतंकवाद की बात कही थी. उन्होंने आगे कहा था कि मैंने ऐसे कई मामले उठाए हैं जिसमें सजा भी हुई है. 

Below Article Thumbnails
DO NOT MISS